हर व्यक्ति के जीवन में उतार चढ़ाव आते हैं लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि हम हार मानकर प्रयास करना छोड़ दे।जीत उसी की होती है जो हर मुश्किल का डटकर सामना करता है। ज़िंदगी में एक दौर ऐसा भी आता जब हमें ये लगता है कि अब कुछ खत्म हो गया या है लेकिन सच बात तो ये है कि यही वो फेज होता है कि जब हम खुद को खुद के लिए तैयार करते हैं।जीत का स्वाद वहीं चखता है जो ठोकरें खाने के बाद भी अपने इरादों पर अडिग रहता है। कई बार हम छोटी छोटी बातों से निराश हो जाते है। हालात चाहे जो भी हो उनसे डरने और घबराने की बजाय आगे बढ़ने के बारे में सोचना चाहिए। हमें अपनी गलतियों पर ध्यान देने की बजाय अपनी अच्छाईयों को बाहर लाने पर काम करना चाहिए।जो लोग संघर्ष करना नहीं छोड़ते।उन्हें एक दिन सफलता ज़रूर मिलती है।संघर्ष और प्रयास जीत हासिल करने की वो सीढ़ी है।जिनपर चढ़कर हम दुनिया की हर चीज को पा सकते है।इसलिए कोशिश करना ना छोड़े।

By Admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *